यशोदा लाल पल-पल में Yashoda Lal Pal-Pal Mein Hindi Bhajan Lyrics

 यशोदा लाल पल-पल में Yashoda Lal Pal-Pal Mein

यशोदा लाल पल-पल में Yashoda Lal Pal-Pal Mein

यशोदा लाल पल-पल में अजब लीला दिखते हैं

कभी मैया से कहते है बहुत भारी मेरी कमली

कभी गोवर्धन पर्वत को नख पर वो उठाते हैं

यशोदा लाल……..

कभी रो-रो के कहते हैं सखी दे-दे मेरी मुरली

कभी काली के फन पर वो मुरली मधुर बजाते हैं

यशोदा लाल……..

कभी दर्शन नहीं देते भटकते हैं आज नारद

कभी भक्तों के हित खातिर वो अर्जुन रथ चलाते हैं

यशोदा लाल……..

हे अपरामपार ये माया कहां तक इसको गाए हम

शरण जो शाम की जाते वहीं बैकुंठ जाते है

यशोदा लाल……..

Leave a Reply