Leonardo Del Success Story in Hindi | चश्मे की दुकान से शुरू सफर

Leonardo Del Success Story in Hindi -Entrepreneurs success stories – चश्मे की दुकान से शुरू किया था सफर, आज दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित ब्रैंड के मालिक 

Company Name – Luxottica Group S.p.A. is an Italian eye-wear company – 
कहाँ से शुरू किया – पिता सड़क पर सब्जी की फेरी लगाते थे |
leonardo del
लियोनार्डों डिलवैकियो ने 1958 में चश्मों की फ्रेम बेचने की दुकान खोली थी। आज उनकी कंपनी लेक्सोटिका दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित ब्रैंड की मालिक है। लियोनार्डों का जन्म इटली के मिलान में 22 मई 1935 को हुआ था। पिता सड़क पर सब्जी की फेरी लगाते थे। बचपन आसान नहीं था। जब सात के हुए तो बच्चों का पालन–पोषण करने में असमर्थ मां ने उन्हें अनाथालय भेज दिया। 14 साल की उम्र में वे मिलान की एक टूल निर्माता कंपनी में काम सीखने लगे। बाद में इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग कोर्स करने के लिए शाम की क्लास में भर्ती हो गए। इस दौरान वह पूरा दिन काम करते और शाम को पढ़ाई। 
Leonardo Del Vecchio Success Story in Hindi
Leonardo Del Vecchio
यहां से वे वैनिस के पास एक छोटे गांव में चले गए, जहां हर तरह के चश्मे बनाए जाते थे। यहां बड़ी इंडस्ट्रियां थीं और सीखने के लिए भी बहुत कुछ था। कुछ सालों तक वे नौकरी करते रहे और अनुभव लिया। फिर चश्मों की फ्रेम की अपनी एक छोटी–सी दुकान खोल ली। तीन साल बाद इसी दुकान को चश्मों के पार्ट बनाने की मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट में तब्दील कर दिया। तब उनके साथ 14 लोग काम करते थे। 
 
कड़ी प्रतिस्पर्धा थी, लेकिन अपना काम आगे बढ़ाते हुए लियोनार्डों ने अपनी कंपनी लेक्सोटिका स्थापित की। दस साल तक कंपनी दूसरों के लिए फ्रेम बनाती रही। 1976 में यह काम बंद कर दिया और अपने ही ब्रैंड के चश्में बाजार में उतारे। लियानार्डों ने शानदार बिजनेस नेटवर्क तैयार किया, जिसे मात देना मुश्किल था। 
 
भविष्य पर नजर और समय पर निर्णय करने की उनकी काबिलियत के बल पर लेक्सोटिका ने बाजार पर कब्जा कर लिया। 1980 में उन्होने अपनी कंपनी को विस्तार देना शुरू किया। वे यूरोप और अमेरिका तक कारोबार करने लगे। उन्होने कई कंपनियों का अधीग्रहण किया। इसमें इटली के प्रतिष्ठित ब्रैंड जैसे लैंस क्राफ़्टर्स, पर्सोल तो थे ही, अमेरिका की सबसे प्रतिष्ठत कंपनी रे-बेन को भी अपनी कंपनी में मिला लिया। 
 
समय के साथ लेकसोटका ने कई बड़े ब्रैंड अधीग्रहण कर लिए, जिसमें स्पोर्टस सेगमेंट की ओकले भी शामिल है। आज लेक्सोटिका दुनिया के कुछ सबसे बड़े ब्रैंड जैसे वर्साचे, राल्फ लॉरेन, चैनल और अरमानी की भी मालिक है। एक इंटरव्यू में लियोनार्डों ने कहा था कि हम कॉन्ट्रेक्ट सप्लायर थे और कई फैक्ट्रियों को सामान मुहैया कराते थे। हमें पता था कि जिस दिन हम खुद असेंबल करने लगेंगें, किसी की भी तुलना हमारा सामान सस्ता होगा। हमने एक सैंपल बनाया और होलसेलर इसे लेने के लिए तैयार हो गए।
 
फोर्ब्स के अनुसार आज वे इटली के दूसरे और दुनिया 40 वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं। उनकी संपत्ति 24.2 बिलियन डॉलर है। 14 कर्मचारीयों के साथ एक दुकान में शुरू हुई कंपनी में आज करीब 78 हजार कर्मचारी हैं और 10 बिलियन डॉलर से ज्यादा की इसकी सेल है। लेक्सोटिका ग्रुप के दुनियाभर में 7000 से ज्यादा रिटेल स्टोर्स है। ग्रुप के इटली में 6 मैन्यूफ़ेक्चरिंग प्लांट है। 
 
इसके अलावा चीन में तीन, भारत में एक और ब्राज़ील और अमेरिका में भी एक-एक प्लांट हैं।

One Response

  1. Saleem June 27, 2016

Leave a Reply