kala kauwa chat par baitha hindi Rhyme for kids Lyrics

kala kauwa chat par baitha hindi Rhyme for kids Lyrics

 
काला कौआ छत पर बैठा,
कैसा शोर मचता है|
कावं कावं करके वह तो,
मेरी नींद भगाता है |
इधर से मुर्गा कुकड़ू कूँ कर ,
मुझको यह समझाता है |
सुबह हो गयी, अब तो उठ जा,
क्यों आलस तुमको आता है |
————
Kala kauwa chat pr baitha
kaise shor machata hai
kav kav karke veh to 
meri nind bagata hai
edhar se murga kukdu kukdu kr
mujko yeh samjhata hai
subah ho gayi ab to uth ja
kyo aalas tumko aata hai 

 

Leave a Reply