फिक्स्ड डिपॉजिट FD क्या होता है What is Fixed Deposit interest rates

FD Fixed Deposit ki Jankaari in Hindi with interest rates and Fixed Deposits Types

बहुत बार आपने FD यानी fixed deposit का नाम सुना होगा| आज हम आपको बता रहे है की FD क्या होता है और इसको करने के क्या फायदे है : Fixed Deposit को टर्म डिपाजिट भी कहते है| यह एक ऐसी निवेश योजना होती है जिसमे की आपको आपके निवेश किये गए पैसे के साथ उस पर मिलने वाले ब्याज की भी गारंटी होती है| जब भी आप किसी बैंक मे अपने किसी भी अमाउंट की FD करते है तो आपको एक निश्चित समय बताना होता है जैसे की 1 साल, 2 साल, 5 साल या अपनी इक्छा अनुसार कुछ और| जब आप बैंक को एक निश्चित समय एवं अमाउंट बताते है तो बैंक आपको उस पर मिलने वाली interest rate बताती है| अलग अलग बैंक मे अलग अलग अमाउंट पर अलग अलग समय के लिए इंटरेस्ट रेट अलग अलग हो सकती है इसलिए जब भी आप FD करते है तो सबसे पहले बैंक से पूरी जानकारी जरूर ले|

What is Fixed Deposit interest rates hindi

What is Fixed Deposit

अपनी मेहनत की कमाई को सही जगह पर निवेश करना चाहते है तो फिक्स्ड डिपाजिट स्कीम एक बहुत अच्छा ऑप्शन है क्योकि इसमें मिलने वाला पैसा, म्यूच्यूअल फण्ड या किसी दूसरे मार्किट फण्ड से थोड़ा कम हो सकता है लेकिन इसमें आपके पैसे की पूरी गारंटी होती है की जो पैसा बैंक आपको FD सर्टिफिकेट मे लिखा हुआ है वो जरूर मिलेगा| इसके विश्वसनीय होने की वजह से बहुत सारे लोग अपनी मेहनत की कमाई को इक्विटी इंवेस्टमेंट्स या म्यूच्यूअल फंड्स की तुलना मे यहाँ लगाना अच्छा समझते है| सेविंग अकाउंट पर मिलने वाला ब्याज FD की तुलना मे कम होता है| 

किसी भी बैंक या financial institution मे जब आप FD करते है तो आपको दो बाते जरूर से बतानी होती है – एक निवेश का समय व् दूसरा निवेश अमाउंट| फिक्स्ड डिपाजिट  का ऑप्शन उन लोगो के लिए बहुत उपयुक्त माना जाता है जिनको मार्किट (म्यूच्यूअल फंड्स) की ज्यादा समझ नहीं है एवं उनको अपने पैसे पर किसी भी तरह का रिस्क नहीं लेना होता|

Fixed Deposits Types – Fixed deposit accounts कई तरह के हो सकते है और निवेशक अपनी जरुरत के अनुसार अलग अलग FD मे से अपने लिए उपयुक्त प्लान चुन सकते है-

a) Normal/Standard Fixed Deposits : यह सबसे common एवं सरल fixed deposit होती है जिसका form भरना भी सबसे सरल होता है | इसमें एक फिक्स्ड अमाउंट, फिक्स्ड समय के लिए जमा किया जाता है एवं उसके लिए एक फिक्स्ड ब्याज दर मिलती है| Features –

  • फिक्स्ड समय
  • स्टैण्डर्ड इंटरेस्ट रेट्स
  • सरल एवं सुरक्षित प्लान 

b) Special Fixed Deposits : यह स्टैण्डर्ड FD की तरह ही होती है लेकिन इसमें कुछ विशेष फायदे मिलते है | यह ज्यादातर हायर इंटरेस्ट रेट देती है एवं इसमें आपके अमाउंट पर बिच मे जरुरत होने पर आपको लोन भी मिल सकता है| Features-

  • हाई इंटरेस्ट रेट
  • लोन सुविधा

c) Tax Saver Fixed Deposits : टैक्स सेविंग FD के लिए आपको कम से कम 5 साल का समय लेना होता है एवं जो टाइम आप choose करते है उसको lock in period कहते है । इस FD मे लॉक इन पीरियड से पहले आप FD तोड़ कर पैसा नहीं निकल सकते । पैसे केवल एक केस मे निकल सकता है और वो है निवेशक की मौत।  इस टैक्स सेविंग  स्कीम मे पैसा लगाने पर आपको Section 80C मे इनकम टैक्स मे छूट मिलती है। 

d) Cumulative and Non-Cumulative FD : Cumulative fd मे का समय पूरा होने पर principal and interest अमाउंट आपको मिलता है| अगर आप चाहते है की इंटरेस्ट अमाउंट हर थोड़े टाइम के अंतर् से मिलता रहे तो उसके लिए आपको Non cumulative FD चुनना होगा| 

e) Flexi Fixed Deposits : Flexi फिक्स्ड डिपाजिट मे सेविंग्स अकाउंट को टर्म डिपाजिट से लिंक कर दिया जाता है| Features –

  • लचीलापन
  • सुविधाजनक

Fixed Deposit के फायदे? 

  • सिक्योर Return: FD पर मिलने वाला return amount fixed होता है एवं इस अमाउंट पर किसी तरह का कोई रिस्क नहीं होता है|
  • अकाउंट ओपन करना आसान होता है: FD account ओपन करना एवं सचांलित करना बहुत आसान होता है|
  • सेविंग के लिए प्रोतसाहित: FD आपको अपने बुरे समय के लिए पैसा बचत करने के लिए प्रोतसाहित करता है|
  • अच्छी इंटरेस्ट रेट: आज की तारीख मे FD की interest rate कम हुई है और 6 से 9 के बिच मे है लेकिन मार्किट के माहौल व् सिक्योरिटी को देखते हुए यह इंटरेस्ट रेट अच्छी ही कही जायगी|
  • Flexibility: Normal FD मे customer के पास option होता है की वो समय और पैसा अपनी मर्ज़ी से चुनें| टैक्स सेविंग के अलावा दूसरी FD मे लोन एवं premature का ऑप्शन भी होता है | मतलब जरुरतात पड़ने पर आप FD को पहले भी तुड़वा सकते है|
  • टैक्स फायदा: टैक्स सेविंग FD से आप इंटेरेस कमाने के साथ अपनी इनकम पर टैक्स भी बचा सकते है|

Fixed Deposit Account की जरुरी बाते –

  • ज्यादातर ये देखने मे आया है की Fixed deposit अकाउंट लोग security के साथ high interest rate पाने के लिए अपना extra saving money इन्वेस्ट करते है|
  • एक FD के लिए आपको एक account open करना होता है और future मे दूसरी FD करनी हो तो आपको दूसरा account चाहिए होगा|
  • FD करने पर आपको एक FD certificate या fixed deposit receipt मिलती है जो की आपको maturity पर bank को वापस दिखानी होती है| Maturity पर आप चाहे तो पैसे वापस निकल सकते है या फिर certificate को दिखा कर FD को आगे के time के लिए बढ़ाया जा सकता है|
  • FD पर मिलने वाले interest, अगर income tax की range मे आता है तो interest amount से Tax automatically bank द्वारा deduct कर लिया जायेगा|

Leave a Reply