ऐ वतन ऐ वतन हमको तेरी क़सम Aye Watan Aye Watan Hmko teri kasam

Aye Watan Aye Watan Hmko Teri kasam lyrics in hindi

Hindi Movie – Shaheed

Year – 1965
 
जलते भी गये, कहते भी गये, आज़ादी के परवाने
जीना तो उसी का जीना है, जो मरना वतन पे जाने
 
ऐ वतन ऐ वतन हमको तेरी क़सम
तेरी राहों मैं जां तक लुटा जायेंगे,
फूल क्या चीज़ है तेरे कदमों पे हम
भेंट अपने सरों की चढ़ा जायेंगे 
ऐ वतन ऐ वतन हमको तेरी क़सम
तेरी राहों मैं जां तक लुटा जायेंगे,
ऐ वतन ऐ वतन…
 
कोई पंजाब से, कोई महाराष्ट्र से, कोई यू.पी. से है, कोई बंगाल से,
कोई पंजाब से, कोई महाराष्ट्र से, कोई यू.पी. से है, कोई बंगाल से,
तेरी पूजा की थाली में लाये हैं हम
तेरी पूजा की थाली में लाये हैं हम, 
फूल हर रंग के, आज हर डाल से
फूल हर रंग के, आज हर डाल से
नाम कुछ भी सही पर लगन एक है, 
जोत से जोत दिल की जगा जायेंगे
ऐ वतन ऐ वतन हमको तेरी क़सम
तेरी राहों मैं जां तक लुटा जायेंगे,
ऐ वतन ऐ वतन…
 
तेरी जानिब उठी जो कहर की नज़र,
उस नज़र को झुका के ही दम लेंगे हम,
तेरी जानिब उठी जो कहर की नज़र,
उस नज़र को झुका के ही दम लेंगे हम
तेरी धरती पे है जो कदम ग़ैर का
उस कदम का निशाँ तक मिटा देंगे हम,
उस कदम का निशाँ तक मिटा देंगे हम
जो भी दीवार आयेगी अब सामने
ठोकरों से उसे हम गिरा जायेंगे
ऐ वतन ऐ वतन हमको तेरी क़सम
तेरी राहों मैं जां तक लुटा जायेंगे,
ऐ वतन ऐ वतन…
 
तू ना रोना के तू है भगत सिंह की माँ, मर के भी लाल तेरा मरेगा नहीं
घोड़ी चढ़के तो लाते है दुल्हन सभी, हँसके हर कोई फाँसी चढ़ेगा नहीं
 
इश्क आज़ादी से आशिकों ने किया, देख लेना उसे हम ब्याह लाएंगे
ऐ वतन ऐ वतन हमको तेरी क़सम
तेरी राहों मैं जां तक लुटा जायेंगे,
ऐ वतन ऐ वतन…
 
जब शहीदों की अर्थी उठे धूम से
देशवालों तुम आँसू बहाना नहीं
पर मनाओ जब आज़ाद भारत का दिन
उस घड़ी तुम हमें भूल जाना नहीं
 
लौट कर आ सकें ना जहाँ में तो क्या
याद बनके दिलों में तो आ जाएँगे
 
ऐ वतन ऐ वतन…
———
 
Jalte bhi gaye kahte bhi gaye, Aazaadi ke parwaane
 Jeena to usi ka jeena hai,  Jo marna watan pe jaane
 
 Aye watan aye watan hamko teri qasam
 Teri raahon mein jaan tak loota jaayenge
 Phool kyaa cheez hai tere qadmon pe ham
 Bhent apne saron ki chadhaa jaayenge
 Aye watan aye watan hamko teri qasam
 Teri raahon mein jaan tak lutaa jaayenge
 Aye watan aye watan….
 
Koi punjab se koi maharashtra se,  Koi up se hai koi bangal se
Koi punjab se koi maharashtra se,  Koi up se hai koi bangal se
 Teri pooja ki thaali mein laaye hain ham 
 Teri pooja ki thaali mein laaye hain ham 
 Phool har rang ke aaj har daal se
 Phool har rang ke aaj har daal se
 Naan kuchh bhi sahi, Par lagan ek hai
 Jyot se jyot dil ki jagaa jaayenge
 Aye watan aye watan hamko teri qasam
 Teri raahon mein jaan tak lutaa jaayenge
 Aye watan aye watan…
 
Teri jaanib uthhi jo kehar ki nazar,
 Us nazar ko jhuka ke hi dam lenge ham
Teri jaanib uthhi jo kehar ki nazar,
 Us nazar ko jhuka ke hi dam lenge ham
 
 Teri dharti pe hai jo qadam ghair ka
 Us qadam ka nishaan tak mitaa denge ham
 Us qadam ka nishaan tak mitaa denge ham
 Jo bhi deewaar ab aayegi saamne
 Thhokaron se usse ham giraa jaayenge
 Aye watan aye watan hamko teri qasam
 Teri raahon mein jaan tak lutaa jaayenge
 
 Aye watan aye watam
 

Leave a Reply