आ जाओ मेरे श्याम सलोने Aa Jao Mere Shyam Salone

आ जाओ मेरे श्याम सलोने Aa Jao Mere Shyam Salone

आ जाओ मेरे श्याम सलोने Aa Jao Mere Shyam Salone

आ जाओ मेरे श्याम सलोने, आ जाओ मेरे मीत पिया।

तमन्ना फिर मचल जाये, अगर तुम मिलने आ जाओ।

मेरी बिगड़ी संभल जाये, अगर तुम मिलने आ जाओ ॥टेक॥

मुझे गम है कि मैंने जिंदगी में कुछ नहीं पाया-2

ये गम दिल से निकल जाये, अगर तुम मिलने आ जाओ ॥1॥

यूं आशाओं कि उलझन में, रहा उलझा मेरा जीवन-2

ये उलझन भी सुलझ जाये,अगर तुम मिलने आ जाओ ॥2॥

झलकते आँख से आँसू कहीं बेकार ना जाये-2

चरण छूके बने मोती, अगर तुम मिलने आ जाओ ॥3॥

नहीं मिलते हो तुम मुझसे, तो मोह दुनिया से होता है-2

कटे जग के ये भव बंधन, अगर तुम मिलने आ जाओ ॥4॥

Leave a Reply